फ्रांस में जैव ईंधन का अर्थशास्त्र


इस लेख अपने दोस्तों के साथ साझा करें:

वहाँ अंत में जैव ईंधन के दो प्रमुख प्रकार के रूप में वे औद्योगिक रिफाइनरियों से पारित अधिक कारीगरों जुटाए जाते हैं जाएगा।
औद्योगिक जैव ईंधन पहले से ही रणनीतिक कृषि उत्पादों का हिस्सा हैं, और जिसके लिए अंतरराष्ट्रीय समझौतों के तहत चर्चा कर रहे हैं। फ्रेंच उत्पादकों का डर है, कि यूरोपीय संघ, मर्कोसुर के साथ बातचीत में, ब्राजील, जो एक फ्रांसीसी लागत वर्तमान € 29 होने का अनुमान खिलाफ इथेनॉल के 50 € सौ लिटर उत्पादन में आयात अधिकार प्रदान करने के लिए पसंद है और जो केवल धीरे-धीरे कर (इसलिए भी कर छूट का महत्व) गिर सकता है। स्थिति जगह में पहले से ही पूरी क्षमता से इस्तेमाल नहीं कर रहे औद्योगिक सुविधाओं सहित तिलहन, के लिए बेहतर है। मुख्य चुनौती आज इथेनॉल के लिए देख अल सं 71 नए संस्थानों की रचना है)
Les carburants » artisanaux » sont aujourd’hui utilisables par l’agriculture, tracteurs et installations diverses. L’enjeu pourrait être, outre ce développement » à la ferme « , de créer des marchés dans les autres secteurs de l’économie ; mais que ces nouveaux producteurs d’énergie que sont les agriculteurs en aient une utilisation directe, c’est tout de même la chance d’un avantage économique non négligeable, pour une profession justement portée à l’inquiétude des lendemains.

स्रोत: AIMVER - Infos सं 75 - 2004 दिसम्बर / जनवरी 2005


फेसबुक टिप्पणियों

एक टिप्पणी छोड़ दो

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा। आवश्यक फ़ील्ड के रूप में चिह्नित कर रहे हैं *